Covid19

Omicron के खिलाफ टीके अब भी प्रभावी, बोलीं WHO की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन

बिहार के दूसरे सबसे बड़े अस्पताल में कोरोना विस्फोट, 87 डॉक्टर और छात्र कोविड पॉजिटिव
Email :20

दक्षिण अफ्रीका ( South Africa) में मिले कोरोना ( Corona) के नए वैरिएंट ने दुनिया को चिंता में डाल दिया है. भारत में भी सतर्कता बरती जा रही है. वहीं कोरोना जसे बचाव के लिए वैक्सीनेशन का काम तेजी पर है. इस बीच डब्ल्यूएचओ की मुख्य वैज्ञानिक डॉ सौम्या स्वामीनाथन ( Dr Soumya Swaminathan) ने कहा है कि ऐसा प्रतीत होता है कि टीके अभी भी प्रभावी साबित हो रहे हैं. स्वामीनाथन ने बुधवार को एक ट्वीट में कहा, “जैसा कि अपेक्षित था, टी सेल की  इम्यूनिटी Omicron के खिलाफ बेहतर है.  यह हमें गंभीर बीमारी से बचाएगा. कृपया टीका लगवाएं.

स्वामीनाथन ने बुधवार को डब्ल्यूएचओ की प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि वैक्सीन की प्रभावशीलता दो टीकों के बीच थोड़ी भिन्न होती है, हालांकि डब्ल्यूएचओ के सभी आपातकालीन लिस्टेड सूची के अधिकतर टीकों में सुरक्षा की उच्च दर होती है और टीका कम से कम डेल्टा संस्करण जैसी गंभीर बीमारी में मृत्यु से बचाता है

WHO ने फिर चेताया- कोरोना की ‘सुनामी’ हेल्थ सिस्टम को ध्‍वस्‍त कर देगी

उन्होंने कहा कि बायोलॉजिकल फैक्टर (biological factors) भी एक टीके की प्रभावशीलता तय करते हैं. इनमें उम्र और बीमारियां शामिल हैं. आज दुनिया भर में जो संख्या देख रहे हैं, वे बहुत अधिक हैं. क्योंकि ये संक्रमण टीकाकरण और बिना टीकाकरण वाले दोनों लोगों में हो रहे हैं. हालांकि, ऐसा प्रतीत होता है कि टीके अभी भी सुरक्षात्मक साबित हो रहे हैं . कई देशों में बीमारी की गंभीरता नए स्तर तक नहीं बढ़ी है.”

Related Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts